शनिवार, 12 मार्च 2011

हिन्‍दी साहित्‍य निकेतन, परिकल्‍पना और नुक्‍कड़डॉटकॉम ने कमाल कर दिया


जी हां , हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग के लिए एक सकारात्‍मक कदम हिन्‍दी साहित्‍य निकेतन के साथ शिखर की ओर बढ़ चला है। विवरण जानने के लिए और अपनी राय व्‍य‍क्‍त करने के लिए यहां पर क्लिक कीजिए। जानकारी का खजाना खुलेगा। कहा जा रहा है कि यह मील का पत्‍थर बनेगा। पर मेरा मानना है कि यह मीलों लंबी चट्टान बनेगी। हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग के स्‍वर्णिम युग की शुरूआत हो चुकी है।
आप सब पढ़कर, जानकारी हासिल करके, लौट कर वापिस इसी चौखट पर आइयेगा।

4 टिप्‍पणियां:

टिप्‍पणी की खट खट
सच्‍चाई की है आहट
डर कर मत दूर हट