बुधवार, 17 दिसंबर 2008

जूता चला

बुश को झुकना पड़ गया जूता हुआ महान
पल में अपमानित हुआ जग में देश महान
काम कुछ अच्‍छे करते

2 टिप्‍पणियां:

  1. बुश बूट से बचे

    यह अच्‍छे कर्मों
    का ही तो परिणाम है



    अच्‍छे कर्म न होते

    तो जूतामिलन से

    कैसे बच पाते ?

    बुश और बूट

    दोनों को मिली ख्‍याति

    बुश की तो नहीं लगी

    बूट की कीमत करोड़ लगी।

    उत्तर देंहटाएं

टिप्‍पणी की खट खट
सच्‍चाई की है आहट
डर कर मत दूर हट