बुधवार, 28 अक्तूबर 2009

मिल कर इसका नाम विचारो

एक पैर का संत महान
जिस बिन हम होंगे बेजान
इस गूंगे के हाथ हजारों
मिल कर इसका नाम विचारो

7 टिप्‍पणियां:

  1. परमजीत भाई सही कह रहे हैं.

    जवाब देंहटाएं
  2. तो मै नई झूट बोल्या ..... झाड़ है

    जवाब देंहटाएं
  3. हूँ, आपने तो चक्कर में डाल दिया।
    हारी।

    -Zakir Ali ‘Rajnish’
    { Secretary-TSALIIM & SBAI }

    जवाब देंहटाएं

टिप्‍पणी की खट खट
सच्‍चाई की है आहट
डर कर मत दूर हट