रविवार, 27 सितंबर 2009

एक और पहेली

न पूरब में न पश्‍िचम में, रहता हूं मैं उत्तर में
मेरा है स्थान सुरक्षित हर प्रश्‍न के उत्तर में
आगे मैं था जब जब चला उस्तरा नाई का
बता पहेली वरना उल्लू नाम पड़ेगा भाई का

6 टिप्‍पणियां:

  1. उ....हम भी यही कहेंगे...अल्पना जी की नकल मार के

    उत्तर देंहटाएं
  2. फिर लेट!! मानो मैं मैं नहीं, भारत की रेल हूँ-हमेशा लेट.


    ’उ”

    उत्तर देंहटाएं
  3. @ उड़न तश्‍री
    भारत की रेल सदा ही लेट
    मेरे उत्‍तर लिखने के बाद
    सबने सही उत्‍तर दिया है
    उड़न तश्‍तरी को बढ़ानी होगी
    अपनी गति।

    उत्तर देंहटाएं

टिप्‍पणी की खट खट
सच्‍चाई की है आहट
डर कर मत दूर हट